Saturday , 25 May 2019
Loading...
Breaking News

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बहुत ही बुरा फंस गए इस जाल में

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अपने बुने जाल में ही फंस गए हैं राष्ट्रीय जनतांत्रिक साझेदारी (एनडीए) की रैली में भाग नहीं लेने वाले को राष्ट्रद्रोही करार देकर वह खुद फंस गए हैं गिरिराज सिंह रैली से नदारद दिखे ऐसे में विपक्ष ने पटलवार करते हुए उन्हें ही राष्ट्रद्रोही करार दे दिया है उनके द्वारा रैली से दूरी पर न तो पार्टी बचाव की स्थिति में है  न ही साझेदारी के साथी ने तो गेंद गिरिरराज सिंह के पाले में फेक दी है

रविवार को पटना के गांधी मैदान में आयोजित रैली में केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने दूरी बनाई रखी बिहार में रहते हुए भी वह रैली से दूर रहे ने गिरिराज सिंह के बहाने पूरी बीजेपी(बीजेपी)  जेडीयू को ही राष्ट्रद्रोही करार दिया है

आरजेडी नेता विजय प्रकाश ने एनडीए पर जुबानी हमला बोलते हुए बोला कि गिरिराज सिंह ने बोला था कि जो एनडीए की रैली में शामिल नही होंगे वे राष्ट्रद्रोही हैं इस बयान के हिसाब से गिरिराज सिंह खुद राष्ट्रद्रोही हो गए विजय प्रकाश ने बोला है कि जिस तरीके से रैली फेल हुई है उस हिसाब से यह तय हो गया है कि बिहार की जनता राष्ट्रवादी है रैली में मंच पर बैठे लोग ही राष्ट्रद्रोही हैं बिहार की जनता ने रैली से दूरी बनाकर साफ कर दिया है कि किस मिजाज के हैं विजय प्रकाश ने बोला कि बिहार की जनता आपसी भाईचारे में विश्वास करती है यहां के लोग आपी समन्वय बनाकर चलते हैं

इधर, विपक्ष के हमले से भाजपा तिलमिला गई है भाजपा गिरिराज सिंह के बयान को तोड़-मरोड़कर पेश करने की बात कही है भाजपा नेता नवल किशोर यादव ने बोला कि उनका बयान रैली में आने  नहीं आने वाले राष्ट्रवादी  राष्ट्रद्रोही की बात नहीं थी साथ ही उन्होंने बोला कि हमें विपक्ष से किसी सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं है आरजेडी अपने गिरेवां में झांके कि वह क्या है

विपक्ष के हमले पर जेडीयू को कुछ बोलते नहीं बन रहा है नीरज कुमार ने बोला कि राष्ट्र में लोकतंत्र है सबों के अपने विचार होते हैं रैली में आना  नहीं आना राष्ट्रवादी  राष्ट्रद्रोही के चश्मे से नहीं देखना चाहिए विचार भिन्न हो सकते हैं जदयू नेता नीरज कुमार यहीं नहीं रुके उन्होंने बोला कि गिरिराज सिंह ने क्यों  क्या बयान दिया, जवाब उनको देना चाहिए हमारी पार्टी इन मामलों में नहीं पड़ती है

loading...